Sundar Pichai Biography Hindi Me (सुन्दरपिक पिचाई बायोग्राफी हिंदी में )

0
88
sundar pichai biography in hindi
86 / 100

हेल्लो, दोस्तों स्वागत है आपका हमारे इस ब्लॉग Techgyan.co पे जिसपे हम रोज एक ज्ञानवर्धक पोस्ट आप लोगो के लिए लेके आते है |sundar pichai biography hindi me आज का जो पोस्ट है वो गूगल के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (C.E.O) सुंदर पिचाई के बारे में है, तो आइये जानते है इनके बारे में कुछ मह्त्वोपूर्ण बाते|

Sundar Pichai Biography Hindi Me
Sundar Pichai biography in Hindi

 

जन्म: 12 जुलाई 1972, चेन्नई, तमिल नाडु (भारत)

कार्यक्षेत्र: गूगल के निर्दिष्ट सी.इ.ओ. (मुख्य कार्यकारी अधिकारी)

Slaray: – $240 million (Rs 1,707 crore)

सुंदरराजन पिचाई, जिन्हें सुन्दर पिचाई के नाम से जाना जाता है, एक वरिष्ठ टेक्नोलॉजी एग्जीक्यूटिव हैं और वर्तमान में सर्च इंजन कंपनी गूगल में प्रोडक्ट मुखिया हैं। उन्हें 10 अगस्त 2015 को गूगल का अगला सी.इ.ओ. (मुख कार्यकारी अधिकारी) चुना गया। भारत में जन्मे और आई.आई.टी. खड़गपुर से बी.टेक करने वाले सुन्दराजन पिचाई ने सन 2004 में दुनिया की सबसे बड़ी सर्च कंपनी गूगल ज्वाइन किया और अपनी कड़ी मेहनत और योग्यता के बल पर कंपनी के सबसे बड़े पद के लिए चुने गए। गूगल से पहले उन्होंने एंड कंपनी में कार्य किया

प्रारंभिक जीवन (sundar pichai biography hindi me)

सुंदरराजन पिचाई का जन्म 12 जुलाई 1972 में तमिल नाडु की राजधानी चेन्नई में  एक तमिल परिवार में हुआ था। उनके पिता का नाम रघुनाथ पिचाई और माता का नाम लक्ष्मी है। सुन्दर के पिता रघुनाथ पिचाई ब्रिटिश कंपनी ‘जनरल इलेक्ट्रिक कंपनी’ (जी.इ.सी.) में वरिष्ठ इलेक्ट्रिकल इंजिनियर थे और कंपनी के इलेक्ट्रिकल पुर्जे बनाने वाली एक इकाई का प्रबंधन देखते थे। सुंदर का बचपन मद्रास के अशोक नगर में बीता।

सुन्दर पिचाई ने अशोक नगर स्थित जवाहर विद्यालय से कक्षा 10 तक की पढ़ाई की और फिर आई.आई.टी. चेन्नई में स्थित वना वाणी स्कूल से 12वीं की पढ़ाई की। इसके बाद सुन्दर ने आई.आई.टी. खडगपुर में दाखिला लिया और मेटलर्जिकल इंजीनियरिंग में डिग्री हासिल की। आई.आई.टी. खड़गपुर में उनके प्राध्यापकों ने उन्हें स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय से पी.एच.डी करने की सलाह दी पर सुन्दर ने एम.एस और एम.बी.ए. किया। उन्होंने स्तान्फोर्ड विश्वविद्यालय से ‘मटेरियल साइंसेज एंड इंजीनियरिंग’ में मास्टर ऑफ़ साइंस किया और पेनसिलवेनिया विश्वविद्यालय के ‘व्हार्टन स्कूल’ से प्रबंधन (एम.बी.ए.) की शिक्षा ग्रहण की।

करियर:-

अपनी पढ़ाई पूरी करने के बाद सुन्दर पिचाई ने ‘एप्लाइड मैटेरियल्स’ में इंजीनियरिंग और प्रोडक्ट मैनेजमेंट में कार्य किया। उसके पश्चात उन्होंने मैकिंसे एंड कंपनी में मैनेजमेंट कंसल्टिंग में कार्य किया।

गूगल में करियर (sundar pichai biography hindi me)

सुन्दर पिचाई ने सन 2004 में गूगल ज्वाइन किया जहाँ उन्हें ‘उत्पाद प्रबंधन’ और ‘नई खोजों और नए विचारों’ से सम्बंधित कार्यों की जिम्मेदारी सौंपी गयी। इसके तहत उन्होंने गूगल क्रोम, क्रोम ओ.एस. और गूगल ड्राइव जैसे उत्पादों के विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। इसके साथ-साथ उन्होंने गूगल मैप्स और जी मेल जैसे महत्वपूर्ण उत्पादों के ऐप्लीकेशन डेवलपमेंट में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।

19 नवम्बर 2009 में सुन्दर पिचाई क्रोम ओ.एस. का प्रदर्शन किया और उसके बाद क्रोमबुक को सन 2011 में जांच व् परिक्षण के लिए उतारा गया। जांच और परिक्षण के बाद सन 2012 में इसे ग्राहकों के लिए उतारा गया। मई 2010 में पिचाई ने गूगल के नए विडियो कोडेक VP8 के ओपेन सोर्सिंग का एलान किया। गूगल के इस विडियो कोडेक ने एक नया विडियो फॉर्मेट WebM प्रस्तुत किया।

मार्च 2013 में एंड्राइड भी सुन्दर पिचाई के अंतर्गत आने वाले उत्पादों में शामिल हो गया। इससे पहले एंड्राइड का कार्य और विकास एंडी रुबिन के प्रबंधन में हो रहा था। सन 2014 में माइक्रोसॉफ्ट के अगले सी.इ.ओ. (मुख कार्यकारी अधिकारी) के तौर पर सुन्दर पिचाई का नाम ख़बरों में रहा। सुंदरराजन पिचाई को गूगल का अगला सी.इ.ओ. (मुख कार्यकारी अधिकारी) बनाने के निर्णय की जानकारी 10 अगस्त 2015 को दी गई। 24 अक्टूबर 2014 को गूगल के सह-संस्थापक लैरी पेज ने पिचाई को उत्पाद प्रमुख बनाने की घोषणा की थी।पिचाई अपने नए पद को अल्फाबेट इंक के स्थापना के बाद संभालेंगे। अल्फाबेट इंक अब गूगल के सभी उत्पादों और कंपनियों की होल्डिंग कंपनी होगी जिसके सी.इ.ओ. (मुख कार्यकारी अधिकारी) लैरी पेज होंगे।

निष्कर्ष,

आज की पोस्ट sundar pichai biography hindi me दोस्तों कैसा लगा आप लोगो को आज का ये पोस्ट जिसमे हमने आप लोगो को सुंदर पिचाई की जीवनी के बारे में बताया है | अगर आप लोगो को ये पोस्ट अच्छी लगी हो तो आप इसको अपने दोस्तों के साथ शेयर जरुर करे धन्यवाद |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here