भारत आया दुनिया का सबसे तेज़ AI सुपर कंप्यूटर, मिनटों में करेगा घंटों का काम

0
29

dgx 2 supercomputer india | AI सुपर कंप्यूटर, मिनटों में करेगा घंटों का काम 

 हेलो दोस्तों  स्वागत  है आपका हमारी एक और न्यू पोस्ट में जिसमे हम आज बात करेंगे dgx 2 supercomputer india यह यह पूरी दुनिया का सबसे फ़ास्ट और शक्तिशाली कंप्यूटर है जो हमारे भारत देश के पास है |  Computer के क्षेत्र में लगातार बड़ते कदम हर दिन कुछ नया अविष्कार होते जा रहा है | आज हम इसी विषय पर बात करेंगे की किस तरह DGX-2 AI COMPUTER  शक्तिशाली है और इसमें ऐसी kya बात है जो इसको शक्तिशाली बनाती है |
मुख्य बात यह है की यह  AI (Artificial intelligence) Computer है |

dgx 2 supercomputer india के बारे में जानकारी

dgx 2 supercomputer india DGX-1 का अपग्रेड वर्शन है इस कंप्यूटर को भारतीय प्रौद्योगकी संसथान (IIT जोधपुर ) में लगाया गया है | इस computer की मदद से आर्टिफीसियल Intelligency के क्षेत्र में पढाई में काफी मदद मिलेगी | इसकी मदद से भारतीय टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में कई सारी न्यू तकनीक को जन्म मिलेगा |

क्या खास बात है इस कंप्यूटर में 

  • इस खास computer के अन्दर 16 तरह के कुछ महत्वपूर्ण कार्ड लगे है | जिसमे से हर कार्ड की क्षमता 32 GB (गीगा बाइट ) है|
  • इस कंप्यूटर के लिए इसमें 512 GB की RAM(रीड ओनली मेमोरी ) दी गई है जो इसकी प्रोसेसिंग पॉवर को बढाती है | साथ ही ये मल्टीप्ल टास्क को एक साथ और फ़ास्ट कर सकता है |
  • DGX-2 AI COMPUTER  सुपर कंप्यूटर  की क्षमता 10 किलोवाट की है |
  • अगर अन्य कंप्यूटर को देखा जाए इसकी तुलना में तो सिर्फ 150 से लेकर 200 वाट तक की ही होती है |
  • इस कंप्यूटर का वजन 150 किलो का है |
  • इसकी स्टोरेज कैपेसिटी 30 TB (Terabyte)है यानी 30000 GB है |
  • DGX-2 से पहले हमारे पास DGX-1 था |
  • आज के समय में DGX-1 हमारे देश के कुछ संसथान  जैसे  IISC बैंगलोर और कई संस्थनो में अभी मौजूद है |
  • जो कार्य DGX-1 15 दिनों के अन्दर करता था वही कार्य DGX-2 आधे दिन के अन्दर कर सकता है |
  • DGX-2 की कीमत 2.50 करोड़ है |

और ये हैं दुनिया के 5 सबसे तेज़ सुपर कंप्यूटर (साथ में dgx 2 supercomputer india)

पिज़ डैंट : स्विटज़रलैंड के एल्प्स स्थित एक पहाड़ के नाम पर इस सुपर कंप्यूटर का नाम है, जो 2013 से यूरोप का सबसे तेज़ कंप्यूटर रहा है. लेकिन पिछले कुछ सालों में हुए अपडेट्स के बाद यह दुनिया के सुपर कंप्यूटरों की रैंकिंग में पांचवे नंबर पर आया. इस सुपर कंप्यूटर का इस्तेमाल मस्तिष्क की याददाश्त संबंधी खोजों और ग्लोबल क्लाईमेट संबंधी शोधों में किया जा रहा है.

टायनेह 2 : चीन के इस सुपर कंंप्यूटर के नाम का मतलब आकाशगंगा है. चीन राष्ट्रीय सुरक्षा संबंधी महत्वपूर्ण कामों में इस सुपर कंप्यूटर का इस्तेमाल करता है, जिसके बारे में बहुत कुछ सीक्रेट रखा जाता है. हालांकि, इस सुपर कंप्यूटर की रैंकिंग दूसरे से चौथे नंबर पर आ गई है.

सनवे टाइहूलाइट : 2016 में लॉंच होने के बाद दुनिया में पहले नंबर पर आ गया चीन का यह सुपर कंप्यूटर फिलहाल रैंकिंग में तीसरे नंबर पर है. चीन इसका इस्तेमाल पर्यावरण विज्ञान और उत्पादन से जुड़े एडवांस्ड शोधों में कर रहा है.

सिएरा : नवंबर 2018 में जारी की गई आखिरी रैंकिंग में अमेरिका का यह सुपर कंप्यूटर दूसरे नंबर पर रहा. अमेरिका के राष्ट्रीय परमाणु सुरक्षा कार्यक्रमों में इस्तेमाल किया जा रहे इस सुपर कंप्यूटर को आईबीएम और एनविडिया ने तैयार किया था.
समिट : ज़्यादातर स्वास्थ्य विज्ञान के कार्यक्रमों में इस्तेमाल हो रहा अमेरिका के एनर्जी विभाग का यह सुपर कंप्यूटर जून 2018 से रैंकिंग में नंबर 1 के स्थान पर कायम है.

AI क्या है (What is Artificial Intelligence)

Artificial Intelligency विज्ञानं की एक शाखा है | इसका उपयोग ऐसे एक्सपर्ट सिस्टम को तैयार करने में  होता है  जिसको मानव आसानी से कण्ट्रोल कर सके और इन एक्सपर्ट सिस्टम को विज्ञानं के किसी भी क्षेत्र में उपयोग किया जा सके |
  • Cortona
  • Google Assistant
ऐसे कई सारे उदहारण है आर्टिफीसियल Intelligency के |

निष्कर्ष : आज की इस पोस्ट में हमने देखा की dgx 2 supercomputer india  सुपर कंप्यूटर क्या है और इसके क्या फायेदे है और यह अभी हमारे देश में कहा पर है | यह हमारा AI सुपर computer है जो बोहोत फ़ास्ट प्रोसेसिंग computer है वर्ल्ड का | हम आशा करते है की आपको हमारी यह पोस्ट जरूर पसंद आई होगी धन्यवाद |

 
 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here