DDoS क्या है? और इससे कैसे बचे

0
22
ddos-kya-hai

                    DDoS क्या है? और इससे कैसे बचे

ddos kya hai  हेल्लो, दोस्तों स्वागत है आपका हमारे इस ब्लॉग TechGyan.Co पे, आज हम बहुत ही इम्पोर्टेन्ट और लेटेस्ट टॉपिक पे बात करने वाले है जिसका नाम है DDoS क्या है, और इससे कैसे बचे / आजकल आपलोग देख ही रहे है की साइबर क्राइम कितना बढ़ गया है / तो आज की ये टॉपिक भी साइबर सिक्यूरिटी से ही जुडा हुआ है, तो आइये इसको विस्तार से जानते है /

DDoS के बारे में शाएद ही आप लोगों ने पहले कभी सुना होगा, लेकिन क्या आपलोग यह जानते है की DDoS अटैक होता क्या है , और इससे आपको क्या खतरा हो सकता है, और इससे बचने के क्या उपाए है, तो आइये जानते है /

अगर आप एक ब्लॉगर है या आपकी कोई website है, तो आपको DDoS Attack और DDoS प्रोटेक्शन के बारे में जरुर जानते होंगे, और आपको ये भी मालुम होगा की ये प्रॉब्लम वेबमास्टर के लिए कितनी बड़ी समस्या है /

आपलोगों ने देखा होगा की आये दिन हजारो website DDoS Attack के कारण साईट डाउन हो जाते है, एहा तक की DDoS Attackers ने बड़ी बड़ी website को भी नहीं छोड़ा उनपे भी अटैक किया है / तो आप समझ सकते है की ये प्रॉब्लम कितनी बड़ी है और इसके बारे में पूरी जानकारी रखना भी बहुत जरुरी है /

एक बार आप सोच के देखिये की जो Non-Tech blogger के लिए अपनी साईट को DDoS से बचा के रखना कितना मुस्किल काम है , तो आइये पहले ये जानते है की ये DDoS क्या है /

DDoS अटैक क्या है 

DDoS अटैक एक टाइप का Cyber अटैक है, इसमें होता ये है की Attackers आपकी साईट के होस्टिंग पे अनलिमिटेड request भेजता है, जिससे आपकी साईट पे बहुत ज्यादा traffic आ जाता है या आपकी साईट पे request का ओवरलोडिंग हो जाता है जिसकी वजह से आपकी साईट या तो डाउन हो जाती है या कभी-कभी तो साईट क्रेश भी हो जाता है /

DDoS का Full Form है, Distributed Denial of Service attack.

इन हमलो के तहत जो हमलावर है वो लोग अपने targeted साईट के सर्वर पर DNS और HTTP request भेज के उसे लोड करने का प्रयास करते है / जिससे उस साईट पे traffic बढ़ जाये और वो साईट डाउन हो जाये / आम तौर पे ये दिक्कत wordpress साईट पे ज्यादा होता है /

अभी तक सायद आप लोगो को पूरी तरह समझ नहीं आया होगा, तो आइये और सरलता से समझते है एक example से, अब आप मान लीजिये की आपकी website किसी एसे server पे host है जो आपको realtime में केवल 100-200 request ही हैंडल करती है और उसकी monthly डाटा transfer करने की समता केवल 500GB है /

तो एसे में होगा ये की Hackers को आपकी साईट अगर हैक करनी होगी तो वो आपकी साईट को हैक करने के लिए आपकी server पे per सेकंड 1000 request भेजेगा जिससे आपकी monthly data transfer लिमिट ख़तम हो जाएगी और फिर आपकी साईट डाउन हो जाएगी जिससे आपको भारी नुकशान होगा /

 

 

 DDoS अटैक कैसे काम करता है ?

इस प्रकार के अटैक के लिए hackers बहुत सारे Computer एंड devices का यूज़ करते है, अपने targeted server पे request भेजने के लिए, ये लोग एक ऐसा network बनाते है जिसे BOTNET कहा जाता है, Botnet बहुत सारे machine या devices का एक समूह होता है /

तो इस प्रकार ये hackers कुछ ही समय में target server पे लाखो request भेजते है जिससे आपकी साईट का server हैंडल नहीं कर पाता है और वो crash या साईट डाउन हो जाता है, और काम करना बन्द कर देता है / और एसा नहीं है की ये सिर्फ छोटे साईट को ही target करते बल्कि इनकी चपेट में बड़ी बड़ी साईट भी आ चुकी है जैसी Amazon, Netflix, PayPal, और Visa जैसी पोपुलर साईट भी /

DDoS Attack से कैसे बचा जा सकता है आइये जानते है?

सबसे पहले आप अपनी wordpress website में बेसिक security प्रोटेक्शन का इस्तेमाल करिए जिससे आपकी साईट DDoS Attackers से सेफ रहे / सबसे पहले तो आप अपने राऊटर को सेफ रखिये, राऊटर को सेफ रखने के लिए आप VPN का इस्तेमाल कर सकते है ताकि आपकी IP Address कोई ट्रैक न कर पाए /

Router के बाद आपको अपनी साईट के server पे एक limit सेट करनी होगी जिसे कोई भी per सेकंड limit से ज्यादा request सेंड ही न कर पाए, पर ये सब कर पाए ये थोडा मुस्किल है specially new ब्लॉगर के लिए, तो इसके लिए आप एक DDoS अटैक प्रोटेक्शन kit ले सकते है जैसे WAF (Website Application Firewall).

आप लोग देखेंगे की एसी बहुत सी कंपनी है जो फ्री या प्रीमियम Firewall की सर्विस देती है जैसे CloudFlare और Sucuri.net

निष्कर्ष

ddos kya hai तो दोस्तों आज हमने आपको इस पोस्ट के माध्येम से ये बताया की DDoS क्या है? ये कैसे काम करता है? और इससे कैसे बचा जा सकता है, उम्मीद है आपको समझ में आगया होगा, अगर आपको हमारी ये पोस्ट अच्छी लगी हो तो आप लोग इसे शेयर जरुर करे धन्यवाद् /

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here