Computer Virus (कंप्यूटर वायरस क्या होता है?) और ये किस प्रकार कंप्यूटर के लिए हानिकारक है?

0
44
computer virus kya hota hai

हेल्लो, दोस्तों स्वागत है आपका हमारे इस ब्लॉग Techgyan.co पे आज हम जो पोस्ट ले के आये है वो कंप्यूटर वायरस के बारे में है, की कंप्यूटर वायरस क्या होता है? और ये किस प्रकार कंप्यूटर के लिए हानिकारक है आइये जानते है|

आज हम जानने वाले हैं कि Computer Virus क्‍या होता है और यह किस तरह से किसी Computer को नुकसान पहुंचा सकता है आप में से जो लोग भी Computer का Use करते हैं उन्‍होंने Computer Virus का नाम जरूर सुना होगा और यह भी सुना होगा कि Virus अगर आपके Computer में आ जाए तो वह आपके Computer के Data को पूरी तरह से समाप्त‍ भी कर सकता है यहां हम Computer Virus के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त‍ करेंगे Computer Virus क्‍या होता है यह कितने प्रकार का होता है और किस प्रकार आपके Computer और Data को नुकसान पहुंचा सकता है

क्‍या होता है कम्‍प्‍यूटर वायरस (What Is Computer Virus)

जिस प्रकार से मनुष्य‍ के शरीर में अगर Virus घुस जाए तो बहुत तरह की परेशानियां या बीमारियाँ शरीर को जकड लेती हैं उसी प्रकार अगर Computer में भी Virus आ जाए तो Computer में भी अनेक प्रकार की Problems हो सकती हैं लेकिन क्‍या यह Computer Virus कोई जीवित प्राणी होता है नहीं Computer Virus एक छोटा सा Software Program होता है जो Computer के Main Program को प्रभावित करता है जिससे Computer Program ठीक प्रकार से कार्य नहीं करते हैं सीधी भाषा में कहें तो यह Virus आपके Computer Programs को खराब करने के लिए ही बनाए जाते हैं जिससे Computer सुचारु रूप से काम नहीं करता है और आपको परेशानी होती है |

computer virus kya hota hai
Computer virus

What are the types of viruses?

  • Boot Sector Virus.
  • Direct Action Virus.
  • Resident Virus.
  • Multipartite Virus.
  • Polymorphic Virus.
  • Overwrite Virus.
  • Spacefiller Virus.

Computer kya hai iske baare me jaane.

 

Virus कैसे काम करता है और यह किस प्रकार आपके Computer को नुकसान पहुंचा सकता है

जैसा कि आप जानते हैं कि Computer के Operating System, Application Software एक Programming Language में लिखे जाते हैं जिनके लिए कुछ खास तरह की Coding की जाती है जिससे वह Program या Software Algorithm के अनुसार काम करता है जब Virus System में प्रवेश करता है तो वह खुद को Multiply करता है और Program और Applications में बदल जाता है इसके साथ ही Virus Computer के Original Code से Virus के Malicious Code को Replace करता रहता है जिससे Computer की Original Programming बदल जाती है और उसमें कई प्रकार की Problems आने लगती हैं

कैसे पता करें कि कम्‍प्‍यूटर में वायरस है

  • अगर आपकाComputer अचानक से कुछ असामान्य‍ गति विधि कर रहा है तो समझ जाइये कि उसमें Virus हो सकता है उसके लिए कुछ Warning Science हैं जिनके बारे में आपको पता होना बहुत जरूरी है
  • अगर आपकेComputer की Speed अचानक से कम हो जाती है वह बहुत Slow चलने लगता है जबकि उसका Hardware बहुत अच्‍छा है तो समझ लीजिए Computer में Virus है
  • Computerके अंदर अचानक से कुछ ऐसी Files तथा Folder बन जाते हैं जिन्‍हें आपने नहीं बनाया है तो समझ जाइये आपके Compute में Virus है
  • Computer Onकरने के साथ ही अगर कुछ Programs अपने आप Run करने लग जाते हैं और आपके बंद करने के बावजूद भी चलते रहते हैं तो समझ जाइये Computer में Virus है
  •    अगरcomputer में आपको बार-बार Popup Advertisement दिखाई देते हैं तो समझ जाइये कि Computer में Virus है
  • अगरComputer में कुछ ऐसे Software या Applications दिखाई देते हैं जिन्‍हें आपने कभी Installed नहीं किया है तो समझ जाइये कि आपके Computer में Virus है /

Laptop ko Kaise format Kare.

 

वायरस से सिस्‍टम को कैसे बचायें (How To Protect The System From Virus)

  1. अगर आप अपने System को Virus से बचाना चाहते हैं तो आपको कुछ सावधानियां वरतनी चाहिए नहीं तो अगर आप कोई ऐसा Business करते हैं जिसमें आपके पास बहुत जरूरी Data होता है जिसके नष्‍ट होने से आपको काफी नुकसान हो सकता है तो आइए जानते हैं कुछ ऐसे Tips जिससे आप अपने System को Virus से बचा सकते हैं |
  2.  कभी भी किसीPhishing Email पर दिये गये Attachment को खोलना नहीं चाहिए केवल विश्‍वसनीय व्‍यक्तियों द्वारा भेजे गये Email पर ही भरोसा करना चाहिए |
  3. अपनेComputer में एक अच्‍छा Antivirus Install करके रखना चाहिए और उसको समय समय पर Update भी करते रहना चाहिए |
  4. किसी ऐसीWebsite से कोई Software Download नहीं करना चाहिए जिसके विषय में आपको जानकारी न हो Internet पर Free की चीजों से दूर रहना चाहिए |
  5. Internetपर वर्तमान में ज्‍यादातर Software Movie, Mp3 Songs Authorized Websites पर उपलब्‍ध हैं इसके लिए Pirated Website का इस्‍तेमाल नहीं करना चाहिए |
  6. अगर आपEmail या Internet से कुछ Download कर रहे हैं तो पहले फाइल को Antivirus द्वारा Scan जरूर करा लें |
  7. अगर आपको कोई ऐसाE-mail आता है जिसमें लिखा होता है कि आपने लॉटरी जीती है तो उसपर कोई Action नहीं लेना चाहिए उसे तुरंत रिपोर्ट करना चाहिए |
  8. कभी भी नकली, Pirated, Creakऔर Patch Software को INSTALLED नहीं करना चाहिए |
  9. किसी कीPen Drive या Removable Media को अपने Computer में लगाने से पहले उसे Anti Virus से Scan करा लेना चाहिए |

Free Vs Paid Antivirus

Internet पर दो प्रकार के Antivirus उपलब्‍ध हैं पहला Free Antivirus और दूसरा Paid Antivirus दोनों में अंतर जानना बहुत जरूरी है Free Antivirus कुछ Limited Virus और Files को ही Scan कराने की क्षमता रखता है जबकि Paid Antivirus में ढेर सारे Option होते हैं और नये Virus की List को सबसे पहले यहीं पर Update किया जाता है इनका Security Level Free Antivirus से High होता है तो अगर आपका Data आपके लिए बहुत Important है तो आपको Paid Antivirus की तरफ ही जाना चाहिए

निष्कर्ष,

तो दोस्तों कैसा लगा आपको हमारा आज का ये पोस्ट जिसमे हमने आपको कंप्यूटर वायरस के बारे में जानकारी जडिया है की ये किस प्रकार  आपके कंप्यूटर क्वे लिए हानिकारक है और इससे बचने के क्या ऊपाय है, अगर आपको हमारा ये पोस्ट अच्छा लगे तो आप इसको शेयर जरुर करे धन्यवाद |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here