शेयर बाजार में नुकसान क्यों होता है? आइये जानते है इसके बड़े कारण

17
460
share market
61 / 100

शेयर बाजार में नुकसान क्यों होता है? आइये जानते है इसके बड़े कारण

दोस्तों क्या आपने कभी शेयर बाजार के बारे में सुना है? यदि सुना है, तो यह पता होंगा की शेयर बाजार में निवेश करने वाले ज्यादातर लोगो को नुकसान क्यों होता है। लेकिन क्या आप जानते है की कुछ लोग ऐसे भी है जो शेयर बाजार से बहुत अच्छा पैसा कमाते है। तो क्या आप जानना चाहेंगे की ऐसा क्यु होता है? तो यहाँ जानिए उन कारणों के बारे में जिनसे शेयर बाजार में नुकसान होता है। शेयर बाजार में नुकसान होने कि वजह और कारण – 7 Big Reasons of loss in Share Market.

अगर आप शेयर मार्किट को अच्छे से समझ लो तो आपको इसमें लोश नहीं होगा बल्कि आप शेयर बाज़ार से अच्छा मुनाफा भी कमा सकते हो, और अगर आपने बिना सोचे समझे इसमें निवेश किया तो आपको नुकसान उठाना पड़ सकता है।

 

तो आपको शेयर बाजार में नुकसान होने के reasons के बारे में अच्छे से जान और समझ लेना चाहिए। यहाँ हम आपको शेयर बाजार में नुकसान होने कि 8-10 बड़ी वजह बता रहे हैं।

शेयर बाजार में नुकसान होने के 7 बड़े कारण।

अगर आप इन गलतियों (या कारणों) के बारे में जान कर इन से बचेंगे, तो आप भी उन कुछ लोगो में आ जाएंगे जो सच में शेयर बाजार में निवेश करके अच्छा पैसा कमाते है।

1) बिना सीखे निवेश करना:

शेयर बाजार में नुकसान होने का पहला और सबसे बड़ा कारण है की लोग शेयर बाजार में निवेश से पहले शेयर बाजार के बारे में सीखते नहीं है।

लोग यह नहीं समझते की जिस नौकरी या व्यापार से आज वह अपना जीवन खर्च चला रहे है, उसके लिए उन्होंने कम से कम 12-15 साल की पढाई और मेहनत की है।

तो क्या उन पैसो पर अच्छा रिटर्न पाने के लिए निवेश के बारे में सिखने के लिए वो कुछ दिनों का समय भी नहीं निकाल सकते? अगर चाहे तो वह हर दिन थोड़ा-थोड़ा कर के सिख सकते है।

लेकिन लोग ऐसा नहीं करते और वह बिना ठीक से कुछ जाने निवेश कर देते है, और फिर उन्हें नुकसान होता है। इस लिए आप जरूर इस गलती से बचे और सिखने में अपना समय लगाए।

Never invest in anything that you don’t understand.

– Warren Buffett

क्योंकि लाखो रुपए का ऐसे ही नुकसान कर देने से बढ़िया है, कुछ रुपए और समय लगाकर निवेश के बारे में सीखना। जिससे आप उन लाखो रुपए को बचा सके।

2) न समझ में आने वाले व्यापार में निवेश करना:

शेयर बाजार में नुकसान होने का दूसरा कारण है, न समझ में आने वाले व्यापार करने वाली कंपनी में निवेश करना।

बहुत से लोग ऐसी गलती करते है की वे खुद तो एक डॉक्टर होते है, लेकिन वह किसी बैंक के शेयर में निवेश करना चाहते है। जबकि उन्हें वो फार्मा कंपनियों में निवेश करना चाहिए जिनके व्यापार के बारे में वह पूरी जानकारी और समझ रखते है।

ऐसा नहीं है कि एक डॉक्टर को बैंक के शेयर का विश्लेषण करना नहीं आ सकता, लेकिन फार्मा कंपनीओ के व्यापार को समझना उनके लिए बहुत आसान होता है। और वही कुछ ऐसे IT Engineer भी होते है।

जो किसी IT कंपनी में निवेश करने के बजाए फार्मा कंपनी में निवेश करने के पीछे पड़े रहते है। अगर वह उस फार्मा कंपनी के व्यापार को समझते हो तो उन्हें उसमे निवेश करना चाहिए।

लेकिन अगर वह उस के व्यापार को समझते न हो तो उन्हें उन कंपनीओ में निवेश नहीं करना चाहिए। मेरा कहने का मतलब बस यही है, की आप जिस व्यापार को अच्छे से समझते है वैसा व्यापार करने वाली कंपनी में ही निवेश करे।

Risk comes from not knowing what you’re doing.

– Warren Buffett

लेकिन अगर आप किसी बैंक में निवेश करते है, और आपको NPA के बारे में पता नहीं है, तो आप गलत निवेश कर रहे है।

3) गलत समय पर निवेश करना:

तीसरा कारण है, गलत समय पर निवेश करना। अक्सर लोग जब कपड़ो में डिस्काउंट या सेल लगा हुआ होता है, तब तो वह कपडे जरूर खरीदते है। लेकिन जब शेयर बाज़ार में मंदी होती है यानि सेल लगा हुआ होता है, तब वह नुकसान होने के डर की वजह से अच्छी कंपनीओ के शेयर भी बेचने लगते है।

जबकि उन्हें मंदी के वक्त शेयर खरीदने चाहिए। क्युकी बढ़िया से बढ़िया कंपनीओ के शेयर भी बाजार में मंदी के वक्त बहुत अच्छे discount पर मिलते है।

I will tell you how to be Rich. Close the door. Be fearful when others are greedy. Be greedy when others are fearful.

लेकिन लोग इस से बिलकुल उल्टा करते है। जब बाजार में तेज़ी चल रही होती है, तब बहुत से शेयर रोज 5 % , 10 % ,15 % ऐसे अलग अलग प्रतिशत से बढ़ते है। एक दिन में ऐसी तेज़ी को देखकर ज्यादा से ज्यादा लोग उसी समय शेयर बाजार में निवेश करते है।

जिस से उन्हें कुछ समय में अच्छा लाभ तो मिलता है, लेकिन जल्द ही वह लाभ नुकसान में बदल जाता है। क्युकी वे शेयर को बहुत महेंगे दाम में खरीद कर निवेश कर चुके होते है।

इसी वजह से मंदी के समय उनके पास पैसा नहीं होता और बड़ी बड़ी कंपनियां बहुत अच्छे डिस्काउंट पर मिलती है, तब वह शेयर नहीं खरीद पाते। इस लिए जब बाजार बहुत तेज़ी में हो तब सब लोग खरीद रहे है, यह देखकर शेयर न ख़रीदे।

बल्कि अच्छे से अलग अलग कंपनीओ का विश्लेषण करके अच्छे डिस्काउंट मिलने के वक्त ही शेयर ख़रीदे।

सावधानी : शेयर बाजार में सेल लगने पर भी आप किसी भी कंपनी में निवेश न करे। बल्कि अपने द्वारा ढूंढी गई किसी अच्छी कंपनी में ही बाज़ार में मंदी के वक्त निवेश करे।

4) किसी और की सलाह पर निवेश करना:

शेयर बाजार में नुकसान होने के 7 कारण (7 Reasons for loss in Share Market) में चौथा कारण है कि लोग अपने किसी दोस्त या अपने ब्रोकर की सलाह पर निवेश करते है।

किसी और की सलाह पर निवेश करना गलत नहीं है, लेकिन इस चीज़ में एक जोखिम यह है। हो सकता है, की जिसकी सलाह पर आप निवेश कर रहे हो, वह खुद भी उस कंपनी के बारे में ज्यादा न जानता हो और सिर्फ जल्दी से बहुत बढ़ जाने की वजह से वह उस कंपनी का शेयर खरीदने को कह रहा हो।

इस लिए अगली बार किसी और की सलाह पर सीधे ही निवेश न कर दे। बल्कि उसे उस कंपनी के बारे में जानकारी देने को कहे और फिर खुद भी विश्लेषण करे। और अगर आपको सब कुछ सही लगे तभी निवेश करे।

ऐसा करने से आप औरो की गलती से अपना नुकसान होने से बचा लेंगे। क्युकी अगर नुकसान हुआ तो सलाह देने वाला कभी आपका नुकसान भरपाई नहीं करेगा।

5) ज्यादा क़र्ज़ वाली कंपनीओ में निवेश करना:

किसी और कि सलाह पर निवेश करने से यह डर भी रहता है की कही हमने ज्यादा क़र्ज़ वाली कंपनी में तो निवेश नहीं कर दिया? क्युकी ज्यादा क़र्ज़ किसी भी कंपनी की वित्त्तीय स्थिति बिगाड़ सकता है।

ज्यादा क़र्ज़ वाली कंपनियां जब तक व्यापार अच्छा चल रहा हो तब तक ही अच्छे लाभ कमाती है। लेकिन जब कभी व्यापार में मंदी आती है, तब कर्ज़ का ब्याज चुकाने में ही कंपनी का मुनाफ़ा चला जाता है और वह कंपनी सिर्फ ब्याज चुकाने के लिए ही व्यापार कर रही हो ऐसा हो जाता है।

ऐसी कंपनियां जब तक किसी तरह अपना क़र्ज़ कम न करे तब तक वह मुनाफे में नहीं आ सकती। कुछ लोग बहुत अच्छी तरह शेयर का विश्लेषण कर के अच्छी कंपनीयां ढूंढते है। लेकिन फिर भी उन्हें नुकसान होता है। इसका कारण है, वह Margin of Safety नहीं रखते।

यानि अगर उनके अनुसार किसी शेयर का दाम 100 रुपए होना चाहिए तो वह शेयर को 100 रुपए में ही खरीद लेते है। जबकि उन्हें 100 रुपए से कुछ प्रतिशत कम दाम में शेयर खरीदना चाहिए। जैसे 70- 80 रुपए मे। इन दोनों के बिच के अंतर को ही margin of safety कहते है।

Price is what you pay.Value is what you get.

– Warren Buffett

यह इस लिए जरुरी है की शायद शेयर के दाम की गणना करने में उनसे कुछ गलती हुई हो सकती है। इस लिए अगर वह कुछ प्रतिशत कम दाम में शेयर खरीदेंगे तो उन्हें नुकसान होने की संभावना कम हो जाएगी।

6) निवेश की राशि निश्चित न करना:

शेयर बाजार में नुकसान होने के 7 कारण में 6th कारण है कि लोग अपने निवेश की राशि निश्चित नहीं करते है। यह भी एक बड़ी गलती है।

क्युकी निवेश की राशि निश्चित न होने से वे अपना ज्यादातर पैसा शेयर बाजार में निवेश कर देते है। जिस से उनके पास आपातकालीन समय के लिए भी पर्याप्त राशि नहीं होती।

और जब उन्हें पैसा चाहिए होता है, तभी बाज़ार में मंदी चल रही होती है। जिससे उन्हें नुकसान कर के बाजार में से पैसा निकालना पड़ता है।

Never test the depth of River with both the feet.

– Warren Buffett

इस लिए अपनी कुछ राशि फिक्स्ड ब्याज़ वाले निवेशों में भी रखे।

7) नुकसान वाले शेयर को रखकर लाभ वाले शेयर को बेच देना:

नुकसान होने का आखरी कारण है, नुकसान वाले शेयर को रखकर लाभ वाले शेयर को बेच देना। अक्सर लोग ऐसा करते है, की किसी शेयर में नुकसान होने पर उसे रखते है।

जबकि लाभ होने वाले शेयर बेच देते है। जबकि उन्हें ऐसा नहीं करना चाहिए। क्युकि किसी शेयर को बेचने के लिए सिर्फ उसका दाम कम हो जाना उचित कारण नहीं है।

Selling your winners and holding your losers is like cutting the Flowers and watering the Weeds.

– Peter Lynch

अगर कोई शेयर में आपको इस लिए नुकसान हो रहा है, क्युकी कंपनी के साथ कुछ गलत हुआ है। तो आप उस नुकसान वाले शेयर को भी बेच सकते है।

लेकिन कई बार ऐसा भी होता है कि कंपनी बहुत अच्छा पैसा कमा रही होती है और उसका व्यापार और ज्यादा बेहतर हो रहा हो। लेकिन फिर भी उसका शेयर नहीं बढ़ रहा हो।

ऐसी कंपनीओ के बारे में और जाँच करनी चाहिए। क्युकी  शायद सिर्फ बाज़ार में मंदी की वजह से ही वह शेयर नहीं  बढ़ रहा हो।

तो दोस्तों इन बड़े 7 कारणों की वजह से ही सामान्य निवेशकों को शेयर बाजार में नुकसान होता है। उम्मीद करता हु की में आपको ‘ 7 Reasons for loss in Share Market ‘ के बारे में अच्छे से समझा पाया हु।

अब बारी आपकी है, क्या आप इन कारणों से बचकर निवेश करने के लिए तैयार है? जिस से आप अपने निवेश पर बहुत अच्छा रिटर्न कमा सके? इसके बारे में मुझे Comment कर के जरूर बताए।

साथ ही इस पोस्ट को सोशल मीडिया पर अपने दोस्तों के साथ शेयर जरुर करे ताकि वो भी इसके बारे में जान सके।

17 COMMENTS

  1. Good day! This is kind of off topic but I need some help from an established blog.
    Is it tough to set up your own blog? I’m not
    very techincal but I can figure things out pretty
    quick. I’m thinking about creating my own but I’m
    not sure where to begin. Do you have any ideas or suggestions?
    Thank you

  2. Do you mind if I quote a couple of your posts as long as I provide credit and sources
    back to your blog? My website is in the exact same area of interest
    as yours and my visitors would truly benefit from some of the information you present here.
    Please let me know if this okay with you. Regards!

  3. Howdy! I could have sworn I’ve been to this website before but after checking
    through some of the post I realized it’s new to me.
    Anyways, I’m definitely delighted I found it and I’ll
    be bookmarking and checking back often!

  4. I like the helpful information you provide in your articles.
    I’ll bookmark your weblog and check again here frequently.
    I am quite certain I’ll learn plenty of new stuff right here!
    Best of luck for the next!

  5. I do not even know the way I ended up right here, however I assumed this publish was once great.
    I don’t recognise who you are however definitely you are going to a well-known blogger when you aren’t already.
    Cheers!

  6. I used to be recommended this website by means of my cousin.
    I’m no longer sure whether this post is written by means of him as
    no one else understand such distinctive about my trouble.
    You’re wonderful! Thank you!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here